Header Ads Widget

Gold Bleach Karne Ka Tarika | गोल्ड ब्लीच कैसे करे

गोल्ड ब्लीच: Gold Bleach Karne Ka Tarika

Gold Bleach Karne Ka Tarika | गोल्ड ब्लीच कैसे करे | गोल्ड ब्लीच करने का तरीका


गोल्ड ब्लीच: गोल्ड ब्लीच कैसे करे | गोल्ड ब्लीच करने का तरीका | गोल्ड ब्लीच करने का तरीका,आज हम आपके इन सारे जवलो के जवाब देणे वाले है आपके ये सारे सवाल हमने धुंड कर इसके जवाब लेके आये है

गोल्ड ब्लीच,गोल्ड ब्लीच करने का तरीका,गोल्ड ब्लीच कैसे करें,गोल्ड ब्लीच लगाने का तरीका,गोल्ड ब्लीच के फायदे,गोल्ड ब्लीच के बारे में बताइए,गोल्ड ब्लीच के बारे में,गोल्ड ब्लीच करने का तरीका बताइए,गोल्ड ब्लीच का उपयोग कैसे करें,गोल्ड ब्लीच और फेशियल,गोल्ड ब्लीच के बारे में बताएं

गोल्ड ब्लीच करना,गोल्ड ब्लीच के बारे में जानकारी चाहिए,गोल्ड ब्लीच का यूज,गोल्ड ब्लीच के बारे में बताना,गोल्ड ब्लीच नेचुरल,गोल्ड ब्लीच कैसे इस्तेमाल करते हैं,गोल्ड ब्लीच के बारे में बताओ,गोल्ड का ब्लीच कैसे लगाया जाता है,गोल्ड ब्लीच के बारे में जानकारी बताएं,गोल्ड ब्लीच का तरीका,गोल्ड ब्लीच का यूज कैसे करें.

गोल्ड ब्लीच की जानकारी,गोल्ड ब्लीच कैसे यूज़ करें,गोल्ड ब्लीच प्राइस,गोल्ड ब्लीच का इस्तेमाल कैसे करें,गोल्ड ब्लीच का फायदा,गोल्ड ब्लीच का इस्तेमाल,गोल्ड ब्लीच के बारे में कुछ जानकारी,गोल्ड ब्लीच करना बताएं,गोल्ड ब्लीच का फेशियल,गोल्ड ब्लीच के बारे में जानकारी


ये आपके सारे सवाल हमने पढे है और हमे ये लगता है कि आपको आपके इन गोल्ड ब्लीच: गोल्ड ब्लीच कैसे करे | Gold Bleach Karne Ka Tarika | गोल्ड ब्लीच करने का उपाय इन सारे सवालो के जवाब मिले है तो आप comment करके जरूर बताओगे,



ब्लीच का इस्तेमाल करने से पहले जानिए कुछ अहम बातें: गोल्ड ब्लीच के बारे में जानकारी(गोल्ड ब्लीच के बारे में कुछ जानकारी)गोल्ड ब्लीच के बारे में बताना,गोल्ड ब्लीच के बारे में जानकारी चाहिए.

गोरी रंगत, स्मूद और ईवनटोन स्किन हर महिला की चाहत होती है और इसे पाने का ब्लीचिंग सब से कौमन ब्यूटी ट्रीटमैंट होता है, क्योंकि इस के इस्तेमाल से फेशियल हेयर का रंग हलका हो जाता है, जिस से वे दिखाई नहीं देते और त्वचा भी गोरी व सुंदर नजर आती है. आज मार्केट में कई तरह के ब्लीच उपलब्ध हैं. ब्लीच का इस्तेमाल करने से पहले जानिए कुछ अहम बातें:


    प्रोटीन हाइड्रा ब्लीच: Gold Bleach Karne Ka Tarika

    यह ब्लीच फ्रेकल्स, ऐजिंग, पिगमैंटेशन, डार्क स्पौट और अनईवन स्किनटोन जैसी समस्याओं पर असरकारक तरीके से काम करता है. यह फेशियल हेयर को तो लाइटटोन करता ही है, साथ ही पिगमैंटेशन की समस्या को भी दूर करता है.

    यह स्किनटोन को भी लाइट करता है. यह स्किन को डीप क्लीन कर के स्किन पोर्स को भी रिफाइन करता है. सनटैन को रिमूव करने में यह सर्वोत्तम है. यह हर तरह की स्किनटोन के अनुरूप काम करता है. ईवन सैंसिटिव स्किन पर भी बिना किसी रैडनैस और जलन के. मगर प्रोटीन हाइड्रा ब्लीच किसी अच्छे सैलून में जा कर कुशल हाथों से ही करवाएं.


    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल: 

    ऐक्स्ट्रा औयल कंट्रोल: Gold Bleach Karne Ka Tarika

    जैसाकि नाम से मालूम होता है यह ब्लीच खासतौर पर ऐक्स्ट्रा औयली स्किन के लिए उम्दा उत्पाद है. इस ब्लीच से स्किन में मैलानिन पिगमैंट कम होता है. मैलानिन पिगमैंट जितना कम होगा, स्किन उतनी ही फेयर नजर आएगी. (गोल्ड फेशियल के फायदे) इसी के साथ यह ब्लीच त्वचा के ऐक्स्ट्रा औयल को कंट्रोल कर के मृत कोशिकाएं भी हटाता है.


    हाइड्रेटिंग ब्लीच: गोल्ड ब्लीच करने का तरीका

    शुष्क त्वचा के लिए यह सर्वोत्तम है. यह स्किन में पैनिट्रेट हो कर उसे मौइश्चर प्रदान करता है, जिस से वह सौफ्ट, फेयर व हैल्दी नजर आती है.

    ब्लीच के प्रकार: गोल्ड ब्लीच करने का तरीका

    • पाउडर ब्लीच: अमोनिया, हाइड्रोजन पैरोक्साइड और ब्लीच पाउडर का सम्मिलित रूप है पाउडर ब्लीच. यह डार्क स्पौट और झांइयों के लिए अति उत्तम होता है. इसे कुशल हाथों से ही करवाएं, क्योंकि सही अनुपात न होने पर यह त्वचा को नुकसान भी पहुंचा सकता है.

    क्रीम ब्लीच: गोल्ड ब्लीच करने का तरीका

    क्रीम ब्लीच सब से ज्यादा चलन में है और इस्तेमाल में भी आसान है. यह क्रीम ब्लीच व ऐक्टिवेटर का सम्मिलित रूप होता है.


    गोल्ड ब्लिच मिश्रण बनाने का तरीका:

    4 भाग ब्लीच क्रीम में 1 भाग ऐक्टिवेटर डाल स्पैचुला से अच्छी तरह मिलाएं. कोई गांठ न रहे. ध्यान रखें ज्यादा इफैक्ट के लिए ऐक्टिवेटर की मात्रा बढ़ाने से भविष्य में पिगमैंटेशन की समस्या विकराल रूप ले सकती है या स्किन बर्न भी हो सकता है. (डायमंड फेसिअल किट) इसलिए बढि़या इफैक्ट के लिए स्किन के अनुरूप ही ब्लीच का चुनाव करें तथा उस के मिश्रण का भी.


    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल: 


    पैच टैस्ट:

    अगर ब्लीच का इस्तेमाल पहली दफा कर रही हैं, तो ब्लीच लगाने से पहले पैच टैस्ट जरूर कर लें. इस के लिए थोड़ी सी मात्रा में मिश्रण ले कर बांह पर लगाएं. अगर जलन होने लगे या लालिमा आ जाए, तो इस का प्रयोग न करें.

    ब्लीच लगाने से पहले(गोल्ड ब्लीच का इस्तेमाल)

    ब्लीच लगाने से पहले चेहरे को ठंडे पानी और सौम्य फेसवाश से साफ कर लें. ध्यान रखें चेहरे पर गरम पानी व स्क्रब का ब्लीच से पहले व ब्लीच के एकदम बाद इस्तेमाल नहीं करें.

    यह नुकसानदायक हो सकता है. फिर पेस्ट को स्पैचुला या उंगली की मदद से चेहरे पर ऊपर से नीचे की तरफ लगाएं. (
    फेशियल के फायदे और नुकसानआंखों, आईब्रोज और लिप्स पर न लगाएं. ब्लीच 10 से 15 मिनट तक लगाए रखें. इस के बाद पेस्ट को कौटन की मदद से साफ कर लें. फिर चेहरे पर मौइश्चराइजर लगा लें.

    त्वचा के अनुरूप ब्लीच

    संवेदनशील त्वचा: इस प्रकार की त्वचा पर प्रोटीन हाइड्रा, हर्बल, हाइड्रेटिंग व रैडिएंट ग्लो इस्तेमाल करें.

    तैलीय त्वच (Oily Skin Ke Fadu Upay):

    • तैलीय त्वचा पर अकसर कीलमुंहासों की परेशानी हो जाती है. अत: इस तरह की त्वचा के लिए ऐक्स्ट्रा औयल कंट्रोल, अमोनिया फ्री ब्लीच, डी टैन, फ्रूट ब्लीच उपयुक्त होता है.

    शुष्क त्वचा:
    • इस प्रकार की त्वचा के लिए औयल व मौइश्चर बेस्ड ब्लीच का प्रयोग करें जैसे हाइड्रेटिंग ब्लीच, व्हाइटनिंग ब्लीच आदि.


    मैच्योर स्किन:
    • इस प्रकार की त्वचा के लिए ऐजिंग औक्सीजन ब्लीच उपयुक्त रहता है. लेकिन त्वचा की नमी को बनाए रखने के लिए हाइड्रेटिंग ब्लीच का इस्तेमाल करें. (डायमंड फेशियल किट प्राइस) इस के अलावा त्वचा के मैलानिन स्तर को कम करने के लिए प्रोटीन हाइड्रा औक्सी का इस्तेमाल करें.

    ब्लीच करते समय ध्यान देने योग्य बातें

    • थ्रैडिंग, वैक्सिंग, स्टीम व स्क्रबिंग के बाद कभी ब्लीच न करें.ब्लीचिंग करने से पहले प्री ब्लीच लोशन या लाइट मौइश्चराइजर का इस्तेमाल करें खासकर शुष्क व सैंसिटिव स्किन पर. (फ्रूट फेशियल के फायदे) दि ब्लीच लगाने पर जलन महसूस हो, तो ठंडे पानी से चेहरे को तुरंत धो लें. बर्फ लगाएं.
    • ब्लीच का इस्तेमाल पैच टैस्ट के बाद ही करें: कटीफटी त्वचा पर ब्लीच का इस्तेमाल न करें.
    • ब्लीच का इस्तेमाल 15 से 20 दिन से पहले दोबारा न करें.ब्लीच को 15 मिनट से ज्यादा समय तक न लगाएं रखें.ब्लीच क्रीम में ऐक्टिवेटर मिक्स करते समय मैटल चम्मच व मैटल बाउल का इस्तेमाल न करें.
    • चेहरे के ब्लीच को शरीर पर और शरीर के ब्लीच को चेहरे पर न लगाएं.ब्लीच करते समय टीवी देखने या किताब पढ़ने से परहेज करें, क्योंकि यह आंखों को नुकसान पहुंचा सकता है. (नेचुरल ब्लीच) ब्लीच करने के 6 घंटे बाद तक साबुन या फेसवाश का प्रयोग न करें. धूप से आने के तुरंत बाद ब्लीच न करवाएं. शरीर का तापमान सामान्य होने पर करवाएं.
    • जिन की बौडी हीट ज्यादा रहती हो वे स्किन की जांच करवा कर ही स्किन के अनुरूप ब्लीच करवाएं. (डायमंड ब्लीच के फायदे)आफ्टर ब्लीच सनगार्ड लगा कर ही धूप में निकलें.कभी फेशियल करने के बाद ब्लीच का इस्तेमाल न करें वरना परिणाम गंभीर हो सकता है.

    ब्लीच करने के फायदे(गोल्ड ब्लीच का फायदा)

    ब्लीच से फेशियल हेयर स्किनटोन अच्छी तरह मैच हो कर ईवन फेयर ग्लो देती है.10 से 15 मिनटों में ही स्किन फेयर व रैडिएंट नजर आने लगती है. (ब्लीच करने के उपाय) ब्लीच स्किन की डैड लेयर को रिमूव कर के स्किन को ब्राइट लुक प्रदान करता है.पोस्ट ब्लीच पैक स्किन को हाइड्रेट कर के व्हाइटनिंग बैनिफिट देता है.सनटैन को रिमूव कर के मैलानिन को लाइट कर के स्किनटोन को लाइटर व फेयर करता है.


    गोल्ड ब्लीच के नुकसान(ब्लीच के नुकसान)

    • ब्लीच में मरकरी होता है, जो त्वचा को नुकसान पहुंचता है, इसलिए ब्लीच का इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा न करें.
    • ब्लीच के बाद त्वचा लाल हो जाए, तो धूप व आंच के संपर्क में न आएं.
    • सांवलों को ही नहीं गोरी रंगत वालों को भी ब्लीचिंग की जरूरत पड़ती है, लेकिन स्किन के अनुरूप ब्लीच न होने पर यह स्किन डैमेज का कारण भी बन सकता है.
    • ब्लीच के परिणामस्वरूप त्वचा में दर्द, उस का छिलना, लाल व भूरे रंग के धब्बे या सूजन होने का मतलब ब्लीच रिऐक्ट कर गया है. (नेचुरल गोल्ड ब्लीच) अगर आप ने कैमिकल पीलिंग करवाई है, तो ब्लीच का इस्तेमाल कम से कम 4 से 6 महीने तक न करें.
    • सौंदर्य विशेषज्ञा से सलाह ले कर ही ब्लीचिंग का इस्तेमाल करें. ब्लीच को आंखों व भौंहों के आसपास न लगाएं वरना परेशानी हो सकती है.
    • ब्लीच कुशल हाथों से ही करवाएं और ब्रैंडेड प्रोडक्ट्स का ही इस्तेमाल करें.


    गोल्ड ब्लीच करने का तरीका विषयावर विचारले जाणारे प्रश्न आणी उत्तर


    गोल्ड ब्लीच की कीमत कितनी है?

    फेम गोल्ड अल्ट्रा क्रीम ब्लीच, 30 ग्राम: Amazon.in: ब्यूटी ₹82.00

    गोल्ड ब्लीच क्रीम का उपयोग कैसे करें?

    ब्लीच क्रीम को पूरे चेहरे पर लगाने के बाद इसे 15-20 मिनट के लिए छोड़ दें। फिर चेहरे को गीले कपड़े या गीले स्पंज से अच्छी तरह साफ कर लें। फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें। ध्यान रहे कि ब्लीच लगाने के बाद कम से कम 4-5 घंटे तक चेहरे पर साबुन या एस्ट्रिंजेंट का इस्तेमाल न करें।

    कौन सा ब्लीच अच्छा है?

    गोल्ड ब्लीच के फायदे: डार्क कॉम्प्लेक्शन के लिए कौन सा ब्लीच अच्छा है: पर्ल ब्लीच। यह ब्लीच गहरे रंग के लिए सबसे उपयुक्त है। आप बाजार में उपलब्ध अपने किसी भी पसंदीदा ब्रांड का पर्ल ब्लीच खरीद कर इस्तेमाल कर सकते हैं।

    ब्लीच करने के बाद चेहरे पर कौन सी क्रीम लगाएं?

    आप एलोवेरा जेल को ब्लीच करने के बाद चेहरे पर लगा सकते हैं।

    मुझे कितने दिनों में ब्लीच करना चाहिए?

    विरंजन का प्रभाव अस्थायी होता है और केवल 20-25 दिनों तक रहता है।


    क्या होता है जब विरंजन लागू किया जाता है?

    इसके इस्तेमाल से त्वचा की टूटी हुई कोशिकाएं मिनटों में ठीक हो जाती हैं। यह मेलेनिन के स्तर को बनाए रखता है, वर्णक जो त्वचा को रंजित बनाता है, कम से कम। इसलिए ब्लीच के इस्तेमाल से त्वचा की रंगत में निखार आता है। यह सभी प्रकार की त्वचा के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है।


    सबसे अच्छी फेशियल क्रीम कौन सी है?

    • 1. इसके लिए आपको ब्यूटी पार्लर जाने की भी जरूरत नहीं है।
    • 2. बेस्ट गोल्ड फेशियल किट के नाम।
    • 3. वीएलसीसी गोल्ड फेशियल किट।
    • 4. अरोमा मैजिक गोल्ड फेशियल किट।
    • 5. लोटस हर्बल्स रेडियंट गोल्ड सेल्युलर ग्लो फेशियल किट।
    • 6. न्यूट्रीग्लो गोल्ड केसर फेशियल किट।


    ब्लीच करने के बाद क्या लगाएं?

    चंदन पाउडर: चंदन के पेस्ट में त्वचा पर ठंडक पहुंचाने के गुण भी होते हैं। चंदन के पाउडर को गुलाब जल में मिलाकर कुछ देर लगाएं। इससे आपको जो ठंडक मिलेगी वह आपके चेहरे की जलन को दूर कर देगी।


    फेशियल के बाद चेहरे पर क्या लगाएं?

    फेशियल के बाद चेहरे पर विटामिन सी सीरम का इस्तेमाल करें जो त्वचा के लिए फायदेमंद होने के साथ-साथ चेहरे पर दिखने वाली झुर्रियों को बढ़ने से रोकता है। हाथों की गंदगी और बैक्टीरिया बार-बार चेहरे को छूने से त्वचा को नुकसान पहुंचा सकते हैं।


    ब्लीच कब तक लगाना चाहिए?

    चेहरे पर ब्लीच का इस्तेमाल करने से पहले इस बात का ख्याल रखें कि हमें इसका कितना इस्तेमाल करना है और कितनी देर तक इसे त्वचा पर रखना है। अगर यह जानकारी पैक पर नहीं लिखी है तो इसे त्वचा पर पंद्रह मिनट से ज्यादा न रखें।


    चेहरे पर ब्लीच लगाने के क्या फायदे हैं?

    साथ ही रंगत में भी निखार आता है। विटामिन ई त्वचा के लिए बहुत अच्छा माना जाता है, यह झुर्रियों को रोकता है। एलोवेरा त्वचा को नमी और ठंडक देता है, वहीं नारियल का तेल त्वचा के दाग-धब्बों को दूर करता है, कोमलता बनाए रखता है, साथ ही आपकी त्वचा भी साफ दिखती है।


    चेहरे पर ग्लो कितने दिन बाद आता है?

    फेशियल के बाद त्वचा को नेचुरल और ग्लोइंग दिखने में 1-2 दिन का समय लगता है।


    सबसे महंगा फेशियल कौन सा है?

    गोल्ड फेशियल क्यों? गोल्ड फेशियल लोगों को काफी पसंद आता है। लेकिन यह काफी महंगा होता है। दरअसल, इससे चेहरे की सारी गंदगी साफ हो जाती है और चेहरे पर एक सुनहरी चमक आ जाती है।


    ब्लीचिंग के कितने समय बाद फेशियल करना चाहिए?

    ब्लीच करने के बाद 6 घंटे तक साबुन या फेस वाश का इस्तेमाल न करें। धूप से निकलने के तुरंत बाद ब्लीच न करें।


    घर पर फेशियल और ब्लीच कैसे करें?

    मसाज क्रीम के लिए 2 चम्मच एलोवेरा जेल और 1 चम्मच शहद मिलाएं। फिर 2 विटामिन ई कैप्सूल को तोड़कर उसमें डाल दें। वहीं, लाइटनिंग क्रीम बनाने के लिए 1 बड़ा चम्मच एलोवेरा जेल, बड़ा चम्मच शहद और 2 से 3 चुटकी हल्दी मिलाएं। इस क्रीम से चेहरे की 5 से 10 मिनट तक उंगलियों से मसाज करें।


    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल:


    ध्यान दें:

    इस लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के हैं। इस लेख में समाहित किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, वैधता या वैधता के लिए उपचार । सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है। लेख में व्यक्त की गई जानकारी, तथ्य या राय हेल्थऍक्टिव्ह और हेल्थऍक्टिव्ह की राय को नहीं दर्शाती है, जिसके लिए हेल्थऍक्टिव्ह  कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करता है।

    Post a Comment

    तुम्हाला काही अडचण असेल तर तुम्ही कंमेन्ट करून विचारू शकतात

    थोडे नवीन जरा जुने