Facebook SDK

ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय

Oliy Skin Ke Liye 10 Gharelu Upay: हर किसी की त्वचा एक जैसी नहीं होती और हर त्वचा की अपनी समस्याएं होती हैं। तैलीय त्वचा भी उनमें से एक है। तैलीय त्वचा वाले लोगों को हर समय नाखून और मुँहासे और चिपचिपी त्वचा की समस्या का सामना करना पड़ता है। (Oily Skin Se Chutkara Pane Ke Gharelu Upay) ऐसे में अक्सर लोग इनसे बचने के लिए ऑयली स्किन ट्रीटमेंट लेते हैं। हालाँकि, इतना कुछ करने के बाद भी हर समय चेहरे पर हल्का तेल बना रहता है।

ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपाय

ऑयली स्किन को गोरा करने के 10 उपाय: इसे ध्यान में रखते हुए, हम हेल्थ ब्युटी फिटनेस ऍक्टिव्ह के इस लेख में तैलीय चेहरे से छुटकारा पाने के आसान तरीके दे रहे हैं। तैलीय त्वचा उपचार के अलावा, यहाँ तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार दिए जा रहे हैं। यदि यह सवाल मन में आता है, तो तैलीय त्वचा के लिए क्या करना चाहिए? तो, कृपया यहाँ उल्लिखित तैलीय त्वचा के घरेलू उपाय पर विचार करें।


तैलीय त्वचा के लिए क्या करना चाहिए, यह जानने से पहले आइए जानें कि त्वचा तैलीय क्यों है।

विषय सूची

ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय: तैलीय त्वचा वसामय ग्रंथियों से सीबम (वसा से समृद्ध तैलीय पदार्थ) के अतिउत्पादन का परिणाम है। इससे त्वचा चिपचिपी और चमकदार दिखती है। ऐसा नहीं है कि सीबम का उत्पादन त्वचा के लिए हमेशा खराब होता है। सीबम त्वचा को स्वस्थ रखने के लिए भी उपयोगी हो सकता है, लेकिन जब सीबम, वसामय ग्रंथियों से बाहर आना शुरू होता है, तो यह तैलीय त्वचा का कारण बनता है।

अब हम जानते हैं तैलीय त्वचा होने के कारणों के बारे में।


ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय-तैलीय त्वचा के कारण

तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार जानने से पहले, जानिए तैलीय त्वचा होने के कारणों के बारे में। आप जानते हैं कि अधिक सीबम के उत्पादन के कारण, त्वचा तैलीय हो जाती है, लेकिन इसके पीछे के कारण को जानना भी महत्वपूर्ण है। इसे ध्यान में रखते हुए, लेख के इस भाग में, हम तैलीय त्वचा के लिए कुछ अन्य कारण दे रहे हैं, जो इस प्रकार हैं:


हार्मोन में परिवर्तन - जीवन के विभिन्न स्तरों पर महिलाओं के शरीर में कई प्रकार के हार्मोनल परिवर्तन होते हैं। किशोरावस्था, गर्भावस्था या रजोनिवृत्ति में हो। इस तरह से तैलीय त्वचा होने के कारणों में हार्मोनल उतार-चढ़ाव शामिल हैं। दरअसल, शरीर में ग्रोथ हार्मोन (प्रोटीन हार्मोन) की अधिकता तैलीय त्वचा का कारण हो सकती है।

अनुवांशिक - यदि किसी के माता-पिता या परिवार के सदस्यों की त्वचा तैलीय है, तो उनके बच्चों की त्वचा भी तैलीय हो सकती है। इसके अलावा, ऑयली सिंड्रोम में ऑयली स्किन होने के लक्षण भी देखे जा सकते हैं, जो कि एक आनुवांशिक विकार है।

मौसम में बदलाव - मौसम के बदलते ही इसका असर त्वचा और चेहरे पर दिखाई देने लगता है। सीबम का उत्पादन पर्यावरण और मौसम के अनुसार भी भिन्न होता है। कई शोधों से पता चला है कि वसंत और गर्मियों के दौरान और अधिक आर्द्र जलवायु में सीबम का उत्पादन बढ़ा है।

आहार - तैलीय त्वचा होने के लिए आहार भी एक छोटा कारण हो सकता है। पौष्टिक आहार न खाने से भी तैलीय त्वचा हो सकती है।

तनाव - तनाव कई स्वास्थ्य या त्वचा की समस्याओं का कारण बन सकता है और तैलीय त्वचा उनमें से एक है। तैलीय त्वचा में मुंहासे की समस्या भी हो सकती है, जो तनाव के कारण अधिक हो सकती है।

देखभाल की कमी - शरीर के साथ-साथ त्वचा की देखभाल भी महत्वपूर्ण है। अगर त्वचा की ठीक से देखभाल न की जाए, तो तैलीय त्वचा की समस्या हो सकती है। इस मामले में, सही त्वचा देखभाल दिनचर्या का पालन करना भी महत्वपूर्ण है।


 अब जानते हैं कि तैलीय त्वचा के लक्षण क्या हो सकते हैं।


ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय-तैलीय त्वचा के लक्षण

कभी-कभी लोग तैलीय त्वचा के लक्षणों के बारे में भ्रमित हो जाते हैं। इस मामले में, तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार जानने से पहले, यह जानना महत्वपूर्ण है कि तैलीय त्वचा के लक्षण क्या हैं। लेख के इस भाग में, हम तैलीय त्वचा के लक्षणों के बारे में जानकारी दे रहे हैं, जो इस प्रकार हैं:


त्वचा चिपचिपी लग सकती है।

त्वचा चिपचिपी और चमकदार लग सकती है।

पिंपल बार-बार निकल सकते हैं।

चेहरे पर बड़े छिद्र हो सकते हैं।

नीचे दिया गया पढ़ें


अब आपको तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार के बारे में पता चलेगा, तो यहाँ पढ़ें कि तैलीय त्वचा के लिए क्या करें।


ऑयली स्किन के लिए 10 घरेलू उपाय | तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपचार | ऑयली स्किन को गोरा करने का उपाय 

यहाँ हम तैलीय त्वचा से छुटकारा पाने के लिए घरेलू उपचार के बारे में बात कर रहे हैं। उनका उपयोग करना आसान है और तैलीय त्वचा के लिए ये त्वचा देखभाल युक्तियाँ काफी हद तक फायदेमंद हो सकती हैं। तेल त्वचा की देखभाल के लिए कुछ फेस पैक इस प्रकार हैं:


1. ऑयली स्किन के लिए गुलाब जल के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए गुलाब जल के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए गुलाब जल के घरेलू उपाय

सामग्री :

आवश्यकतानुसार गुलाब जल

एक कपास की गेंद या कपास


कैसे इस्तेमाल करे:

एक कपास की गेंद या कपास ऊन के एक छोटे टुकड़े को गुलाब जल में भिगोएँ।

अब इससे चेहरा साफ करें।


कितना फायदेमंद:

तेल की त्वचा की देखभाल के लिए कई फेस पैक में गुलाब जल का उपयोग किया गया है। त्वचा के लिए गुलाब जल के फायदे कई हैं। इनमें तैलीय त्वचा से सुरक्षा शामिल है। गुलाब जल त्वचा से अत्यधिक तेल को नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है।

इसके अलावा गुलाब जल त्वचा के पीएच को संतुलित करने और मुहांसों की समस्या को रोकने में भी फायदेमंद हो सकता है। तैलीय चेहरे से छुटकारा पाने के लिए गुलाब जल का इस्तेमाल स्किन टोनर के रूप में भी किया जा सकता है। गुलाब जल का उपयोग त्वचा के लिए सुबह और रात दोनों समय किया जा सकता है।


इसे भी पढे: oily skin care tips in hindi for man


2. ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए मुल्तानी मिट्टी के घरेलू उपाय


सामग्री :

मुल्तानी मिट्टी के दो चम्मच

एक चम्मच ताजा दही

नींबू के रस की दो से तीन बूंदें

एक कटोरी


कैसे इस्तेमाल करे:

इन सभी सामग्रियों को एक कटोरे में मिलाएं और एक पेस्ट बनाएं।

अब चेहरे को पानी से अच्छी तरह धो लें और तौलिए से पोंछ लें।

इसके बाद इस पेस्ट को अपने पूरे चेहरे और गर्दन पर लगाएं।

जब फेस पैक पूरी तरह से सूख जाए तो चेहरे को ठंडे पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी के कई फायदे हैं। उन लाभों में से एक तैलीय त्वचा के खिलाफ सुरक्षा शामिल है। मुल्तानी मिट्टी त्वचा में छिपे तेल और जमी हुई मैल को हटा सकती है। इसके साथ ही इसका उपयोग रोम छिद्रों की सफाई करके तैलीय त्वचा की समस्या से छुटकारा दिला सकता है। वहीं, इसमें नींबू का भी इस्तेमाल किया गया है, जो मुंहासों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

इसके अलावा, इस फेस पैक में दही का इस्तेमाल किया गया है, जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मददगार हो सकता है। यह टिप्स ऑयली स्किन के लिए भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। हालाँकि, अगर किसी की त्वचा संवेदनशील है, तो मुल्तानी मिटटी के फेस पैक को गुलाब जल के साथ लगाया जा सकता है, दही और नींबू के साथ नहीं।


इसे भी पढे: Oily Skin Care Tips Hindi Me


3. ऑयली स्किन के लिए दाल के घरेलू उपाय

सामग्री :

आधा कप दाल

एक तिहाई कप कच्चा दूध

दो से तीन बूंद बादाम का तेल


कैसे इस्तेमाल करे:

दाल को रात भर पानी में भिगो दें और अगली सुबह उन्हें अच्छी तरह से पीस लें।

अब दूध और बादाम के तेल को मिलाएं और एक गाढ़ा पेस्ट बनाएं।

इस फेस पैक को चेहरे पर लगाएं और लगभग 20 मिनट तक सूखने दें।

अब चेहरे को ठंडे पानी से अच्छी तरह से धो लें।


कितना फायदेमंद:

हर घर में आसानी से उपलब्ध दाल तैलीय त्वचा उपचार के रूप में भी उपयोगी हो सकती है। मसूर दाल का यह फेस पैक त्वचा से अतिरिक्त तेल को हटाने में मददगार हो सकता है। इतना ही नहीं, यह त्वचा को जवान और स्वस्थ बनाने में भी मददगार साबित हो सकता है। वहीं, दूध का उपयोग त्वचा के धब्बों को कम करने और त्वचा को हाइड्रेट करने में उपयोगी हो सकता है। इस फेस पैक में बादाम के तेल का भी इस्तेमाल किया गया है, जो त्वचा की टोन को बेहतर बना सकता है।


इसे भी पढे: Rose water for Oily Skin in Hindi


4. ऑयली स्किन के लिए नीम के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए नीम के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए नीम के घरेलू उपाय

सामग्री :

नीम के 9-10 पत्ते

3-4 चुटकी हल्दी पाउडर


कैसे इस्तेमाल करे:

नीम की पत्तियों को पानी में भिगोकर पेस्ट बनाने के लिए उन्हें अच्छी तरह से पीस लें।

अब इसमें हल्दी पाउडर मिलाएं।

यदि पेस्ट गाढ़ा हो गया है, तो इसे पतला करने के लिए पानी की कुछ बूंदें डाली जा सकती हैं।

अब चेहरे को पानी से धो लें और एक पेस्ट लागू करें।

जब पेस्ट सूख जाए तो चेहरे को पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

नीम का इस्तेमाल अक्सर स्वास्थ्य और त्वचा के लिए आयुर्वेदिक औषधि के रूप में किया जाता रहा है। यह तैलीय त्वचा के लिए त्वचा की देखभाल के नुस्खों के लिए भी एक अच्छा उपाय हो सकता है। नीम में मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण तैलीय और मुँहासे वाली त्वचा के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।


वहीं, हल्दी वसामय ग्रंथियों से तेल स्राव को कम करके तैलीय त्वचा के लिए उपयोगी हो सकती है। ऐसी स्थिति में, नीम के साथ हल्दी का उपयोग करने वाला यह फेस पैक तैलीय त्वचा के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है। यदि वांछित है, तो आप इस फेस पैक में त्वचा के लिए कच्ची हल्दी का उपयोग भी कर सकते हैं।

इसे भी पढ़े: Oily Skin Ke Liye Tips in Hindi


5. ऑयली स्किन के लिए संतरे का छिलका के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए संतरे का छिलका के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए संतरे का छिलका के घरेलू उपाय

सामग्री :

तीन चम्मच संतरे के छिलके का पाउडर

चार चम्मच दूध

दो से चार चम्मच गुलाब जल


कैसे इस्तेमाल करे:

संतरे के छिलके को दो से तीन दिनों के लिए धूप में सुखाएं और फिर इसे पीसकर पाउडर बना लें। हालाँकि, यह पाउडर बाजार में भी मिलता है।

इन सभी सामग्रियों को एक कटोरे में मिलाएं और चेहरे पर लगाएं।

लगभग 15-20 मिनट के बाद चेहरे को पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

संतरे के छिलके का यह फेस पैक तैलीय त्वचा के लिए घरेलू उपाय के रूप में भी उपयोगी हो सकता है। दरअसल, संतरे के छिलके पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होते हैं, जो त्वचा को अत्यधिक शुष्क या तैलीय होने से बचा सकते हैं। इस मामले में, यह पैक न केवल तैलीय त्वचा के लिए एक उपाय हो सकता है, बल्कि शुष्क त्वचा के लिए भी उपयोगी हो सकता है।


इसे भी पढे: Best Oily Skin Care Tips in Hindi

6.  ऑयली स्किन के लिए  एलोवेरा जेल के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए  एलोवेरा जेल के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए  एलोवेरा जेल के घरेलू उपाय

सामग्री

एलोवेरा जेल


कैसे इस्तेमाल करे:

एलोवेरा के एक पत्ते को धो लें और इसे काटकर अंदर पीले रंग का पदार्थ निकाल दें।

अब इसे एक बार फिर से धो लें और चम्मच या चाकू की मदद से एलोवेरा जेल को निकालकर चेहरे पर लगाएं।

अगर घर में एलोवेरा का पेड़ नहीं है, तो आप बाजार में मिलने वाले एलोवेरा जेल का भी उपयोग कर सकते हैं।


कितना फायदेमंद:

एलोवेरा के फायदे सेहत और त्वचा दोनों के लिए हैं। एलोवेरा का उपयोग कई कॉस्मेटिक उत्पादों में किया जाता है। इस मामले में, इसे तैलीय त्वचा के लिए मॉइस्चराइज़र के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसे आसानी से त्वचा में अवशोषित किया जा सकता है, जिसके कारण यह तैलीय त्वचा के लिए चिपचिपा नहीं हो सकता है। इसके अलावा, हमने पहले ही सूचित कर दिया था कि कई बार तैलीय त्वचा के लोगों को मुँहासे की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे मामलों में, एलोवेरा में मौजूद एंटी-मुँहासे गुण इस समस्या को रोक सकते हैं।


इसे भी पढे: Oily Skin Care Tips in Hindi for Woman


7. ऑयली स्किन के लिए बेसन के घरेलू उपाय 

ऑयली स्किन के लिए बेसन के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए बेसन के घरेलू उपाय 


सामग्री :

चार बड़े चम्मच बेसन

पेस्ट बनाने के लिए आवश्यकतानुसार गुलाब जल

एक कटोरी


कैसे इस्तेमाल करे:

एक कटोरे में बेसन और गुलाब जल मिलाएं और एक पेस्ट बनाएं।

अब इस पेस्ट को समान मात्रा में चेहरे और गर्दन पर लगाएं।

थोड़ी देर सूखने दें और फिर ठंडे पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

त्वचा के लिए बेसन के लाभों के बारे में बात करते हुए, यह न केवल त्वचा से तेल को कम कर सकता है, बल्कि त्वचा को एक्सफोलिएट भी कर सकता है। बेसन त्वचा के लिए किसी टॉनिक से कम नहीं है। यह त्वचा को बेहतर बनाने में मददगार हो सकता है। बेसन का उपयोग त्वचा को स्वस्थ बनाने के लिए फायदेमंद और आसान घरेलू उपचारों में से एक है।


इसे भी पढे: Man Oily Skin Care Tips in Hindi


8. ऑयली स्किन के लिए ग्रीन टी के घरेलू उपाय

ऑयली स्किन के लिए ग्रीन टी के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए ग्रीन टी के घरेलू उपाय

सामग्री :

एक ग्रीन टी बैग

एक से दो कप पानी

आधा चम्मच शहद


कैसे इस्तेमाल करे:

सबसे पहले पानी को गर्म करें।

अब इसमें ग्रीन टी बैग डालें।

फिर इसे ठंडा होने दें।

ठंडा होने के बाद इसमें शहद मिलाएं।

अब चेहरे को रोजाना क्लींजर या फेस वॉश से धोएं।

फिर ग्रीन टी और शहद के मिश्रण को चेहरे पर लगाएं।

इसे थोड़ी देर सूखने दें।

फिर ठंडे पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

जबकि ग्रीन टी के फायदे सेहत के लिए हैं, यह त्वचा के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। ग्रीन टी त्वचा के सीबम उत्पादन को प्रभावित करने में उपयोगी हो सकती है। साथ ही इस पैक में शहद का भी इस्तेमाल किया गया है, जो न केवल त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है, बल्कि पिंपल्स की समस्या से भी बचा सकता है। शहद और ग्रीन टी का यह मिश्रण तैलीय त्वचा के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।


9. ऑयली स्किन के लिए ककड़ी के घरेलू उपाय 

ऑयली स्किन के लिए ककड़ी के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए ककड़ी के घरेलू उपाय 


सामग्री :

एक ककड़ी

6-8 बूँद नींबू का रस

एक चम्मच शहद


कैसे इस्तेमाल करे:

खीरे की त्वचा को बाहर निकालें और इसे बिना पानी डाले टुकड़ों में पीस लें।

अब इसमें नींबू का रस और शहद मिलाएं।

चेहरे को अच्छी तरह से साफ करें, इस पैक को कॉटन की मदद से अपने चेहरे पर लगाएं।

हल्के हाथों से चेहरे की मालिश करें और फिर इसे 15-20 तक सूखने दें।

इसके बाद चेहरे को गुनगुने पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

खीरा न केवल सेहत के लिए फायदेमंद है, बल्कि यह त्वचा के लिए भी फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, कुछ अध्ययनों से पता चला है कि क्रीम युक्त खीरा त्वचा के सीबम को कम करने में मददगार हो सकता है। हालांकि आगे शोध की आवश्यकता है, ककड़ी एक सुरक्षित और पौष्टिक घटक है, जो त्वचा के लिए उपयोगी हो सकता है। इसके अलावा, यह त्वचा को ठंडक भी प्रदान कर सकता है। साथ ही इस फेसपैक में शहद का भी इस्तेमाल किया गया है, जो त्वचा को स्वस्थ रखने में मददगार हो सकता है। नींबू के रस की बात करें तो यह विटामिन-सी से भरपूर होता है, जो त्वचा की टोन को बेहतर बनाने में मददगार हो सकता है।


10. ऑयली स्किन के लिए ओट्स के घरेलू उपाय 

ऑयली स्किन के लिए ओट्स के घरेलू उपाय
ऑयली स्किन के लिए ओट्स के घरेलू उपाय 


सामग्री :

दो से तीन चम्मच सूखे जई

एक चम्मच शहद

थोड़ा पानी


कैसे इस्तेमाल करे:

ओट्स को ग्राइंडर में पीसकर पाउडर बना लें।

अब इसमें थोड़ा पानी मिलाएं, ताकि यह पेस्ट की तरह गाढ़ा हो जाए।

फिर इसमें शहद मिलाएं।

अब इस पैक को चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद चेहरे को पानी से धो लें।


कितना फायदेमंद:

ओट्स के फायदे सेहत के साथ-साथ त्वचा के लिए भी देखे जा सकते हैं। दरअसल, ओट्स त्वचा के तेल और बैक्टीरिया को हटाने में मददगार हो सकता है। इससे न केवल तैलीय त्वचा की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है, बल्कि तैलीय त्वचा के कारण होने वाले मुंहासों और मुंहासों की परेशानी को भी कम किया जा सकता है। हालांकि, अगर किसी की त्वचा संवेदनशील है, तो उन्हें तैलीय त्वचा के लिए इस घरेलू उपाय को करने से पहले एक पैच परीक्षण करना होगा।


ध्यान दें: इस लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के हैं। इस लेख में समाहित किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, वैधता या वैधता के लिए उपचार । सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है। लेख में व्यक्त की गई जानकारी, तथ्य या राय Healthactive और Healthactive की राय को नहीं दर्शाती है, जिसके लिए हीलथेक्टिव कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करता है।

Post a Comment

तुम्हाला काही अडचण असेल तर तुम्ही कंमेन्ट करून विचारू शकतात

थोडे नवीन जरा जुने