Header Ads Widget

पैरों में दर्द का घरेलू इलाज | पैरो मे दर्द का इलाज

Pairo Me Dard Ka Ilaj in Hindi
Pairo Me Dard Ka Ilaj in Hindi


क्या आपको पता है Pairo Me Dard Ka Ilaj in Hindi क्या है और इसका उपयोग कैसे करे

पैरों में दर्द एक आम समस्या है। बहुत से लोगों को थोड़ी देर चलने पर ही पैरों में दर्द होने लगता है या कुछ लोगों को सिर्फ खड़े रहने पर भी ऐसा हो सकता है। पैर में दर्द अमूमन मांसपेशियों के अधिक थक जाने के कारण होता है। ( Pairo Me Dard Hona Hindi)इसके अलावा अगर आपके शरीर में पोषक तत्वों जैसे कि विटामिन कैल्शियम आदि की कमी है, तो कमज़ोरी के कारण आपके पैर लगातार दर्द हो सकते हैं। 


पैर में दर्द के साथ कुछ लोगों को पैरों में झुनझुनी चढ़ना, ऐंठन जैसी समसयाएं भी हो सकती है। (पैरों के तलवों में दर्द in Hindi)आमतौर पर इस तरह के दर्द को दूर करने के लिए लोग पेन किलर खा लेते हैं। (Pairo Me Dard in Hindi)लेकिन पेन किलर से बेहतर है कि आप कुछ आसान घरेलू उपायों के जरिये इस दर्द में आराम पाएं। हम आपको ऐसे ही घरेलू उपायों की जानकारी देने जा रहे हैं जिनसे आपको पैर दर्द में आराम मिलेगा


Pairo Me Dard in Hindi: क्या आपको अक्‍सर पैरों में और जोड़ों में दर्द होता है या फिर आपकी बॉडी में भारीपन सा लगता है तो इसे साधारण समझने की कोशि‍श न करें क्‍योंकि ये शरीर में विटामिन D की कमी के लक्षण हो सकते हैं. Pairo Me Dard Ka Ilaj in Hindi: अगर इसका सही समय पर इलाज न कराया जाए तो ये कमी कई तरह की (Hath Pero Me Dard in Hindi)गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती है. इसलिए यह जानना बहुत जरूरी है कि इसके लक्षण क्‍या होते हैं...


Pairo Me Dard Ke Upay in Hindi(पैरों में दर्द होना घरेलू उपचार)


1. आपके शरीर में विटामिन D की कमी हो रही है तो इसका असर आपके ब्लडप्रेशर पर पड़ सकता है. (Pairo Me Dard Upay in Hindi)इसकी कमी से अक्सर हाई ब्लडप्रेशर की समस्या पैदा होती है.


2. खास तौर से महिलाओं में विटामिन D की कमी से तनाव की समस्या पैदा हो जाती है और इसके कारण वे लगातार उदासी महसूस करती हैं.


3. यदि आप हड्ड‍ियों में दर्द व कमजोरी के साथ ही मांसपेशि‍यों में लगातार दर्द महसूस कर रहे हैं, (Pairo Me Dard Kyu Hota Hai in Hindi)तो यह विटामिन D की कमी के कारण हो सकता है. विटामिन D हड्ड‍ि‍यों के लिए अति आवश्यक होने के साथ ही दांतों और मांसपेशि‍यों के लिए भी बहुत जरूरी एलीमेंट है.


4. अगर आप लगातार थकान व आलस से भरा महसूस करते हैं तो शरीर में विटामिन D के स्तर की जांच करवाइए. ऐसा विटामिन D की कमी के कारण भी हो सकता है(Pregnancy Me Pairo Me Dard in Hindi)


5. शरीर में विटामिन D की कमी का सीधा असर (Pairo Me Dard Hona Hindi)आपके मूड पर पड़ता है. इसकी कमी से शरीर में सेरोटोनिन हार्मोन के निर्माण पर असर पड़ता है जो आपके बदलते मूड के लिए जिम्मेदार हो सकता है ( पैरों में दर्द in Hindi | पैरों में दर्द हिंदी )


Pairo Me Dard in Hindi:पैरों में दर्द रहता है? अपनाएं ये आसान घरेलू उपाय | Pairo Me Dard Ka Ilaj in Hindi


मालिश पैर दर्द में आराम पहुंचाने के लिए बहुत पुराने ज़माने से की जाती रही है। (Period M Pero Me Dard in Hindi) अगर आपको पैर दर्द मांसपेशियों में तनाव की वजह से है, या मांसपेशियां थकी हुई हैं तो मालिश करने से आपको आराम मिल सकता है। सिर्फ 10-15 मिनट मालिश से आपके पैरों का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर हो जाता है। इससे मांसपेशियों का तनाव दूर होता है। (पैरों में दर्द हिंदी)पैरों की सूजन कम होती है व दर्द दूर होने लगता है। मालिश के लिए आप किसी भी तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन नारियल तेल, सरसों का तेल और जैतून का तेल सबसे अच्छा रहता है क्योंकि इन तेलों के अपनी औषधीय गुण भी होते हैं। 


आप इसे भी पढ सकते है आपके बढा काम आयेगा ये आर्टिकल: 


हल्दी

हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इनफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। इसके ये गुण दर्द दूर करने में इसे मददगार बनाते हैं। इसके अलावा हल्दी में करक्यूमिन नामक एक तत्व भी पाया जाता है जो दर्द के साथ-साथ सूजन भी कम कर सकता है। (पैरों में दर्द in Hindi) इसलिए आप हल्दी का इस्तेमाल पैर दर्द दूर करने में कर सकते हैं। आपको पैर पर हल्दी का एक लेप बनाकर लगाना होगा। इसके लिए तिल के तेल में एक दो चम्मच हल्दी मिलाकर लेप तैयार किया जा सकता है। इस लेप को कम से कम आधे घंटे के लिए लगाएं। इसके अलावा आप हल्दी वाला दूध बनाकर भी पी सकते हैं।


बर्फ की सिकाई

पैर दर्द दूर करने का ये तरीका सबसे आसान है। अगर आपको ज्यादा भागदौड़ करने की वजह से पैर दर्द हो रहा है तो इस दर्द को दूर करने के लिए आप बर्फ से पैरों की सिकाई कर सकते हैं। इसके लिए आप बर्फ के टुकड़ों को एक पतले सूती कपड़े में डालकर पोटली जैसी बना लें। (Pairo Me Dard Ke Upay in Hindi) इससे 10-15 मिनट तक पैरों की सिकाई करें। हालांकि ध्यान रखें कि जरूरत से ज्यादा देर बर्फ से सिकाई करना भी ठीक नहीं है, खासतौर से आपकी त्वचा के लिए। सीमित समय तक की बर्फ की सिकाई करें।


ऐपेल साइडर विनेगर यानी सेब का सिरका

अगर आपके घर में सेब का सिरका है, तो पैर दर्द के लिए पेन किलर क्यों खाना भला? सेब के सिरके से ही आप पैरों के दर्द में आराम पा सकते हैं। आम पैर दर्द के अलावा अगर अर्थराइटिस या गाउट का दर्द हो तो भी आपको इससे फायदा होगा। (Hath Pero Me Dard in Hindi) इस सिरके की मदद से जोड़ों के बीच टॉक्सिन नहीं जमा होते। इसमें पोटैशियम, कैल्शियम और कुछ दूसरे मिनरल होते हैं जो दर्द दूर करने में मदद करते हैं। एक ग्लास गर्म पानी में एक चम्मच सेब का सिरका और शहद मिलाकर पीने से पैरों का दर्द कम हो जाता है। या आप गर्म पानी में थोड़ा सेब का सिरका डालकर उसमें पैर डालकर रखें। इससे भी आराम मिलता है।


आप इसे भी पढ सकते है आपके बढा काम आयेगा ये आर्टिकल: 

ध्यान दें:
इस लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के हैं। इस लेख में समाहित किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, वैधता या वैधता के लिए उपचार । सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है। लेख में व्यक्त की गई जानकारी, तथ्य या राय हेल्थऍक्टिव्ह और हेल्थऍक्टिव्ह की राय को नहीं दर्शाती है, जिसके लिए हेल्थऍक्टिव्ह  कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करता है।

Post a Comment

तुम्हाला काही अडचण असेल तर तुम्ही कंमेन्ट करून विचारू शकतात

थोडे नवीन जरा जुने