Header Ads Widget

Dashmularishtam for Weight Loss in Hindi

Dashmularishta for Weight Loss
Dashmularishta for Weight Loss


आज मै आपको Dashmularishta for Weight Loss के विषय में बताने जा रहा हु वैसे तो 
आयुर्वेद के बारे में बोहत सारे लोग इस तरह से खोज करते रहते है मगर मै आपको 

  • Dashmularishta for weight loss
  • Homemade kashayam for weight loss
  • Patanjali Ayurvedic medicine for weight loss
  • Best Ayurvedic medicine for weight loss
  • Baidyanath Ayurvedic medicine for weight loss
  • Ayurvedic weight loss secrets
  • Best Ayurvedic medicine for weight loss in Patanjali
  • Ayurvedic medicine for weight loss after delivery

सिर्फ और सिर्फ Dashmularishta for weight loss इस विषय के उपर ही बताने वाला हूँ तो चलिए शुरू करते है हमारा आज का आर्टिकल दशमूलारिष्ट फॉर वेट लॉस इन हिंदी 


    वजन घटाने के लिए दशमूलारिष्ट सिरप का उपयोग कैसे करें?

    दशमूलारिष्ट सिरप से वजन कैसे कम करे? 

    जिन लोगों का शरीर बहुत मोटा होता है वे दशमूलारिष्ट सिरप का सेवन आसानी से कर सकते हैं क्योंकि बैद्यनाथ दशमूलारिष्ट काडा को वजन कम करने के लिए योग गुरु द्वारा प्रमाणित किया गया है।

    जब आप वजन कम करने के लिए दशमूलारिष्ट सिरप ले रहे हैं तो आपको इस सिरप का सेवन रोजाना सुबह उठकर गुनगुने पानी के साथ करना चाहिए। (Dabur Dashmularishta for Weight Loss) दशमूलारिष्ट को गुनगुने पानी के साथ लेने से शरीर की अतिरिक्त चर्बी पेशाब के रूप में बाहर निकल जाती है, जिससे वजन कम करने के साथ-साथ शरीर की चर्बी भी कम होती है।

    यदि कोई गर्भवती महिला डाबर दशमूलारिष्ट का सेवन करना चाहती है तो गर्भवती महिलाओं को अपने शरीर की गतिविधियों को पहचानकर या अपने परिवार के डॉक्टर से पूछकर वैद्यनाथ दशमूलारिष्ट का सेवन करना चाहिए।


    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल: बढ़ा हुआ पेट कम करने के उपाय

    दशमूलारिष्ट के उपयोग और लाभ - Dashmoolarishta Uses & Benefits in Hindi


    निम्नलिखित स्थितियों और विकारों में दशमूलारिष्ट की सलाह दी जाती है। दशमूलारिष्ट का प्रयोग हमेशा डॉक्टर या विशेषज्ञ से व्यक्तिगत सलाह लेने के बाद ही करना चाहिए।

    • डिलीवरी के बाद की कमजोरी
    • मानसिक तनाव
    • कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता
    • उल्टी
    • खट्टी डकार
    • अपच
    • गैस
    • पीठ दर्द
    • मांसपेशियों के दर्द
    • भूख में कमी
    • एनीमिया
    • गर्भधारण करने में समस्या
    • पेशाब में जलन
    • Pelvic Inflammatory Disease (श्रोणि सूजन की बीमारी)
    • स्तनों की सूजन
    • सांस लेने में तकलीफ
    • प्रसव के बाद वाला बुखार

    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल: मोटापा कम करने के ५० आयुर्वेदिक उपाय

    दशमूलारिष्ट का काढ़ा ज्यादा पीने से क्या नुकसान हो सकते हैं?

    यदि आप दशमूलारिष्ट सिरप का अधिक मात्रा में सेवन करते हैं, तो यह आपके पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकता है, क्योंकि हर किसी का शरीर अलग होता है, खासकर छोटे बच्चों या गर्भवती महिलाओं का। (वजन घटाने के लिए दशमूलारिष्ट) जब दशमूलारिष्ट सिरप का अधिक मात्रा में सेवन किया जाता है, तो उन्हें पेचिश हो सकती है। समस्या महसूस होने लगती है।


    हमारे शरीर में खून की उचित मात्रा होने से हमारे शरीर की छोटी-छोटी गतिविधियां ठीक से काम करती हैं। लेकिन जब आप इस आयुर्वेदिक औषधि दशमूलारिष्ट को अधिक मात्रा में पीते हैं, तो इससे शरीर में रक्त की मात्रा नहीं बढ़ती है, इसलिए दशमूलारिष्ट का संतुलित मात्रा में सेवन करें और अपने शरीर की स्थिति को समझकर करें।

    कई लोगों का पाचन तंत्र मजबूत नहीं होता है, पाचन तंत्र मजबूत न होने के कारण दशमूलारिष्ट का पाचन ठीक से नहीं हो पाता है। (Dashmularishta Weight Loss Secrets) जिससे खाना भी ठीक से पच नहीं पाता है और यह दवा भी ठीक से पच नहीं पाती है। ऐसे समय में शरीर में कमजोरी आ जाती है और हम कोई भी काम ठीक से नहीं कर पाते हैं। इसलिए वैद्यनाथ दशमूलारिष्ट सिरप का सेवन डॉक्टर की सलाह पर संतुलित मात्रा में ही करना चाहिए।

    आप इसे भी पढिये आपके काम आयेगा ये आर्टिकल: Without Exercise Weight Loss in Hindi

    ध्यान दें:

    इस लेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के हैं। इस लेख में समाहित किसी भी जानकारी की सटीकता, पूर्णता, वैधता या वैधता के लिए उपचार । सभी जानकारी एक आधार पर प्रदान की जाती है। लेख में व्यक्त की गई जानकारी, तथ्य या राय हेल्थऍक्टिव्ह और हेल्थऍक्टिव्ह की राय को नहीं दर्शाती है, जिसके लिए हेल्थऍक्टिव्ह  कोई जिम्मेदारी या दायित्व स्वीकार नहीं करता है।

    Post a Comment

    तुम्हाला काही अडचण असेल तर तुम्ही कंमेन्ट करून विचारू शकतात

    थोडे नवीन जरा जुने